Bewafa Shayari 2020: Bewafa Shayari In Hindi – August 2020

Bewafaon Ki Mahfil Lagegi Ai Dil-E-Jaana,
Aaj Zara Waqt Par Aana Mehmaan-E-Khaas Ho Tum.

बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी ऐ दिल-ए-जाना,
आज ज़रा वक़्त पर आना मेहमान-ए-ख़ास हो तुम।

 

Unhen Ehsaas Hua Hai Ishq Ka Hame Rulane Ke Baad,
Ab Ham Par Pyar Aaya Hai Door Chale Jaane Ke Baad,
Kya Bataen Kis Kadar Bewafa Hai Yeh Duniya,
Yahan Log Bhool Jaate Hain Kisi Ko Dafanane Ke Baad.

उन्हें एहसास हुआ है इश्क़ का हमें रुलाने के बाद,
अब हम पर प्यार आया है दूर चले जाने के बाद,
क्या बताएं किस कदर बेवफ़ा है यह दुनिया,
यहाँ लोग भूल जाते हैं किसी को दफनाने के बाद।

Ye Shayari Ki Mahfil Bani Hai Aashiqon Ke Liye,
Bewafaon Ki Kya Aukaat Jo Shabdon Ko Tol Sake.

ये शायरी की महफ़िल बनी है आशिकों के लिये,
बेवफाओं की क्या औकात जो शब्दों को तोल सके।

Rehne De Yeh Kitaab Tere Kaam Ki Nahi,
Iss Mein Likhe Hue Hain Wafaaon Ke Tazkare.

रहने दे ये किताब तेरे काम की नहीं,
इस में लिखे हुए हैं वफाओं के तज़करे।

Pages: 1 2 3 4 5

Comments 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *